जरा सोचिये

      No Comments on जरा सोचिये

1.अच्छे उपाय न पेश कर पाने के कारण एक अखबार संपादक ने वाल्ट डिज्नी को नौकरी से निकाल दिया। और क्या आपको पता है डिज्नी लैंड बनने से पहले वाल्ट डिज्नी कई बार कंगाल हुए |

2.महान वैज्ञानिक ऐल्बर्ट आइंस्टाईन , चार साल की उम्र तक बोल नहीं सकते थे और सात साल की उम्र तक
कुछ पढ़ नहीं सकते थे । उनके टीचर ने उन्हें ” निकम्मे ” की उपाधि दी और उन्हें ज्यूरिक पॉलिटेक्निक स्कूल में
दाखिला नहीं मिला |

3.महान आविष्कारक थॉमस एडिशन के स्कूल टीचरो ने एक बार कहा यह लड़का बेवकूफ है , कुछ नहीं सिख
पाएगा । इस कारण उनकी माँ ने उन्हें स्कूल से निकालकर घर ही में शिक्षा दी । जवान एडिशन विज्ञान से
मोहित थे । दस साल की उम्र में ही उन्होंने अपनी पहली रसायन – शास्त्र कार्यशाला खोली । अपने जीवन काल
में उन्होंने 1300 आविष्कार किये |बिजली का बल्ब बनाने के लिए उन्हें 2000 से अधिक प्रयास करने पड़े । जब किसी पत्रकार ने उनसे एक बारपूछा , इतनी बार चूककर आपको कैसा लगा । एडिशन ने जवाब दिया मैं एक बार भी नहीं चूका । मैंने बिजली का बल्ब बनाया लेकिन यह 2000 कदम वाली प्रक्रिया थी |

4.सन 1940 में उन्होंने चेस्टर कार्लसन नामक नौजवान आविष्कारक ने 20 बड़ी कंपनियों को अपना उपाय बेचने
की कोशिश की । उन सब ने उसे टाल दिया । 1947 में सात लम्बे नाकामयाबी भरे साल बाद न्यूयॉर्क की एक
छोटी सी कंपनी हैलोएड , ने उससे इस कागज की फोटोकॉपी बनाने के आविष्कार के अधिकार ख़रीदे । हैलोएड
आगे चलकर प्रसिद्ध ” ज़ेरोक्स कारपोरेशन ” बना , और दोनों कारपोरेशन एंड कार्लसन आमिर बन गए |

5.जब एलेक्जेंडर ग्रेहम बेल ने 1870 में टेलीफोन का आविष्कार किया , अमेरिकी राष्ट्रपति रुद्रफोर्ड हेज ने कहा
चीज तो गजब की है ,पर इसे लेगा कौन ?

इतिहास ने यह साबित कर दिखाया है कि दुनिया के सबसे बड़े विजेताओ को जीतने से पहले दिल तोड़ने वाली
बाधाओ का सामना करना पड़ा , पर वे जीते क्योकि उन्होंने अपनी नाकामयाबियों से हार नहीं मानी |

 

यदि आपके पास Hindi/English में कोई Article,Motivational/ Inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Email Id है:successduniya@yahoo.com.पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks

228 views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *