“सफलता का रहस्य” The secret of success

     

                                                                     

                    ”  सफलता का रहस्य  “

          दोस्तों एक बार की बात है  एक व्यक्ति ने महान दार्शनिक सुकरात से सफलता का रहस्य पूछा |

सुकरात ने अगली सुबह उस व्यक्ति को नदी के पास बुलाया और उसे अपने साथ  नदी में अंदर चलने के लिए बोला जब वह  व्यक्ति पानी के बीचोबीच  चला गया  और  पानी उसकी गर्दन तक गया , तब सुकरात ने उसकी गर्दन को पकड़ा और पानी के अंदर दे दिया  तब वह व्यक्ति पानी से बहार निकलने के लिए  जोरजोर से हाथ पैर  मारने लगा  लकिन सुकरात ने उसे मजबूती से पकड़ कर रखा था   लड़का बाहर निकलने के लिए संघर्ष कर कर रहा था  लेकिन सुकरात मजबूत था जब तक लड़के के सरीर का रंग नीला नहीं हो गया ,तक तक उसकी गर्दन को सुकरात ने  पानी के अंदर ही दबाया रखा । और फिर बाद में उसकी गर्दन को पानी से बहार निकल लिया ,

तब सुकरात ने पूछा  जब तक तुम पानी के अंदर थे  तुम्हे सबसे जयादा ज़रूरत किस चीज़ की थी तब उस व्यक्ति ने उत्तर दिया हवा

                            

तब सुकरात ने कहा यही सफलता का राज है

जिस प्रकार तुम्हे पानी के अंदर हवा की सबसे जयादा जरूरत थी उसी प्रकार जब तक तुम्हे अपना  लक्ष्य  नहीं मिल जाता तब तक तुम्हे अपने अंदर की चिंगारी को जलाऐ रखना  होगा

सुकरात  ने , “लड़के से  कहा,” कि जिस तरह  आप पानी के अंदर बुरी तरह से हवा चाहते थे  उसी प्रकार आप को सफलता पानी है और वो आपको जरूर मिलेगी |

                                                                         कोई अन्य रहस्य नहीं है

यदि आपके पास Hindi/English में कोई Article,Motivational/ Inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करेंहमारी Email Id है:successduniya@yahoo.com.पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे. Thanks!

193 views

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *